जिंदगी एक सफर

जिंदगी एक सफर हैं, जो कभी न कभी रुकेगा ही,
तो क्यों न इस सफर को सुहाना बनाया जाए।

अनेकों लहमे होंगे इस सफर में, कुछ खट्टे कुछ मिटे,
उन्हें अपनाकर क्यो न आगे बड़ा जाए।

सफर में, हर बात मन मुताबिक तो न होगी कभी,
जो हुआ है क्यो न उसे मन से अपनाया जाए।

सभी मुसाफिर है,
सभी को उतरना ही है,
तो क्यो न मुस्कुराते हुए अपनी मंजिल तय की जाए।

कल क्या हो किसने जाना, शायद कल हो ही ना,
तो क्यो न आज को ही यादगार बनाया जाए।

जिंदगी एक सफर हैं, जो कभी न कभी रुकेगा ही,
तो क्यों न इस सफर को सुहाना बनाया जाए।

Life Coach

Author: ABLES INDIA

Dear Friends, I welcome all of you to ABLES, a journey to lead happy, prosperous, and successful life. Mr Amol Dixit

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: