ऐसा हिंदुस्तान हमारा ।।

जहा देवीदेवताओं के अवतार हुए ।
ऋषिमुनि और संतोंकी पावन भूमि ,
अनेक धर्मोका जनक है,
हिन्दुस्तान हमारा ।।

ज्ञान, ध्यान, आयुर्वेद, योगा ,
जिसने दुनिया को दिया,
धर्म, संस्कृति जिसने दुनियाको सिखायी,
ऐसा महान है,
हिंदुस्तान हमारा ।

स्वर्गसे सुंदर, गंगासा पवित्र,
उत्तर में जिसके हिमालय है,
और दक्षिणमें जिसके कन्याकुमारी ।
दुनिया में संपन्न ,
हिंदुस्तान हमारा ।

शहीदों की पावन भूमि ये ,
त्याग और बलिदान की पावन भूमि ,
सदा आबाद, खुशाल ,
खिलखलता रहे,
हिंदुस्तान हमारा ।।

कभी सोने की चिड़िया कहलाने वाला,
जिसने जग के व्यापर को कभी केंद्रित किया ।
आज जगतगुरु बननेकी राह पर चल पड़ा ,
ऐसा कुशल है ,
हिंदुस्तान हमारा ।

जय हिंद ।।।

2 Comments

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s